विडियो: भारत की अरुणा रेड्डी ने ब्रॉन्ज जीत रचा इतिहास, शानदार परफॉरमेंस देकर इस तरह जीता करोड़ों लोगों का दिल, khabarspecial news, B3S Video, B3S Entertainment News, B3S Entertainment Video, Aruna Reddy Latest Video, Aruna Reddy Creates History to Win Bronze at Gymnastics World Cup, जिमनैस्टिक्स वर्ल्ड कप,जिमनैस्टिक,अरुणा रेड्डी,gymnastics world cup,first ever indian,bronze medal in gymnastics,Aruna Reddy, रियो ओलिंपिक, रियो ओलिंपिक, पहली भारतीय जिमनास्ट बन गईं, ब्रॉन्ज मेडल जीता, खबरस्पेसल न्यूज़, खबर स्पेसल ऑनलाइन न्यूज़, B3S एंटरटेनमेंट, B3S विडियो, खबर स्पेसल ऑनलाइन समाचार, अरुणा बी. रेड्डी

हैदराबाद/नई दिल्ली, खबरस्पेसल न्यूज़: हैदराबाद की अरुणा बी. रेड्डी ने आज इतिहास रच दिया। वह जिमनैस्टिक्स वर्ल्ड कप में व्यक्तिगत पदक जीतने वाली पहली भारतीय जिमनास्ट बन गईं। उन्होंने यहां महिलाओं की वॉल्ट स्पर्धा में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया.

22 साल की इस जिमनास्ट ने यहां हिसेन्से अरीना में 13.649 अंक से ब्रॉन्ज मेडल जीता। स्लोवानिया की जासा कैस्लेफ ने 13.800 अंक के स्कोर से गोल्ड मेडल, जबकि ऑस्ट्रेलिया की एमिली वाइटहेड ने 13.699 अंक से सिल्वर मेडल हासिल किया.

यह भी पढ़ें: वरुण धवन की फिल्म अक्टूबर ट्रेलर हुआ रिलीज़, ये ट्रेलर आपको इमोशनल कर देगा

फाइनल दौर में पहुंची एक अन्य भारतीय प्रणति नायक 13.416 अंक से छठे स्थान पर रहीं। जिमनैस्टिक्स में 1 साल में कई वर्ल्ड कप प्रतियोगिताएं होती हैं और वे वर्ल्ड चैंपियनशिप के बाद दूसरे दर्जे पर मानी जाती हैं.

भारतीय जिमनैस्टिक्स महासंघ के एक गुट के सचिव शांतिकुमार सिंह ने कहा, ‘अरुणा अब वर्ल्ड कप में पदक जीतने वाली पहली और एकमात्र भारतीय बन गई हैं। हमें उस पर गर्व है.

दीपा कर्मकार 2016 रियो ओलिंपिक की महिला वॉल्ट स्पर्धा में चौथे स्थान पर रहीं थीं। उन्होंने एशियाई चैंपियनशिप और 2014 कॉमनवेल्थ खेलों में कांस्य पदक जीते हैं, लेकिन वह वर्ल्ड कप स्तर पर कोई पदक नहीं जीत सकीं थी.

यह भी पढ़ें: भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह की भाभी की अश्लील तस्वीरें, इंटरनेट पर मचाया तहलका

यह अरुणा का पहला इंटरनैशनल मेडल है, हालांकि वह 2013 वर्ल्ड आर्टिस्टिक जिमनैस्टिक्स चैम्पियनिशप, 2014 राष्ट्रमंडल खेलों और 2014 एशिया खेलों और 2017 एशियाई चैंपियनशिप में भाग ले चुकी हैं. आज की उपलब्धि से पहले उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2017 एशियाई चैंपियनशिप की वॉल्ट स्पर्धा में छठा स्थान था.

अन्य सभी अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में वह क्वॉलिफिकेशन चरण से आगे नहीं जा सकी थीं। अरुणा रविवार को होने वाले फ्लोर स्पर्धा के फाइनल राउंड में पहुंच गई हैं। अन्य स्पर्धाओं में राकेश पात्रा पुरुष रिंग स्पर्धा में चौथे स्थान पर रहे, वह रविवार को पैरलल बार स्पर्धा के फाइनल राउंड में भी शामिल हैं.

वर्ष 2010 दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों और 2014 एशियाई खेलों के कांस्य पदकधारी आशीष कुमार रविवार को पुरुष वॉल्ट स्पर्धा के फाइनल दौर में होंगे। वह क्वालिफिकेशन दौर में छठे स्थान पर रहे थे। इस साल वर्ल्ड कप सीरीज स्पर्धा में 16 देश भाग ले रहे हैं.