khabarspecial/2019 के चुनाव से पहले बीजेपी मुश्किलें में, ये हुयी सबसे बड़ी गलती, khabarspecial news, khabar special political news, BJP News, BJP Mistakes, 019 election,clash between akali dal and bjp,crisis in nda,modi government,modi government in trouble,pm modi and amit shah, शिवसेना, टीडीपी, भारतीय समाज पार्टी, अकाली सांसद सुखदेव ढींढसा, अटल बिहारी वाजपेयी, चार सीटों पर अकाली दल का कब्जा, पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू, खबरस्पेसल न्यूज़, खबर स्पेसल न्यूज़, राजनितिक खबरें, अकाली दाल

नई दिल्ली, खबरस्पेसल न्यूज़: एक तरफ जहाँ केंद्र की मोदी सरकार 2019 का चुनावी रण जीतने की तैयारियों में जुटी है, वहीँ एक-एक करके लागातार उनके सहयोगी पार्टी उनसे अपनी नाराज़गी जाहिर कर रहे है और दुरी बना रहे हैं.

एनडीए में शामिल पार्टियों की बीजेपी से बढ़ती नाराज़गी मोदी सरकार के मिशन-2019 की राह में रोड़े अटका सकती है। ताज़ा मामले में अब बीजेपी की पुरानी सहयोगी पार्टी अकाली दाल ने बीजेपी को लेकर अपनी नाराज़गी जाहिर की है.

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश में विज्ञान की परीक्षा इस कारण से हुयी निरस्त, अब 10 मार्च को होगी परीक्षा

शिवसेना, टीडीपी, भारतीय समाज पार्टी के बाद आज अकाली दल ने भी बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। अकाली सांसद सुखदेव ढींढसा ने कहा है कि अटल बिहारी वाजपेयी जब पीएम थे तब घटक दलों को साथ लेकर चलते थे, लेकिन मोदी हमें महत्व नहीं देते.

नाराजगी दिखाने वाले सुखदेव ढींढसा सिर्फ राज्यसभा के सांसद नहीं हैं बल्कि वाजपेयी सरकार में खेल और रसायन मंत्री रह चुके हैं. अकाली दल ने पीएम मोदी पर साथ लेकर नहीं चलने के आरोप तब लगाए हैं जब पार्टी की ही सांसद हरसिमरत कौर मोदी सरकार में मंत्री हैं.

पंजाब में लोकसभा की कुल 13 सीट है. अभी चार सीटों पर अकाली दल का कब्जा है. जबकि एक सीट पर बीजेपी जीती हुई है। अकाली की वजह से नाराज होकर पहले पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू ने बीजेपी से नाता तोड़ा और अब अकाली भी बीजेपी को आंख दिखाने में जुटे हैं.

यह भी पढ़ें: क्या है होली..? क्यों मनाई जाती है होली..? शिव पुराणों के अनुसार इस वजह से मनाई जाती है होली

पंजाब में ऐसे भी पार्टी और गठबंधन दोनों कमजोर है। अगर यही हाल रहा तो 2019 के चुनाव से पहले पीएम मोदी को परेशानियों का सामना ज्यादा करना पड़ेगा.