ब्रेकिंग न्यूज़: रिजर्व बैंक ने कहा ने कहा इस वजह से हुई इन चार राज्यों में कैश की किल्लत, khabarspecial.com, khabar special online hindi news, khabarspecial hindi samachar, today's breaking news, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया, RBI, Bihar, Sushil Modi, BJP, two thousand notes, cash crisis, Gujarat, madhya pradesh, Bihar, uttar pradesh, bank, ATM, shivraj singh chouhan, yogi adityanath, हिंदी समाचार, hindi news, Hindi Samachar, Samachar, Latest Hindi news, news in hindi, खबरस्पेसल.कॉम, खबरस्पेसल हिंदी समाचार, आज की सबसे बड़ी खबर, कैश की किल्लत की सबसे बड़ी बजह, RBI ने दिया सबसे बड़ा बयान

नई दिल्ली, खबरस्पेसल न्यूज़, रेखा रावत, 18-अप्रैल’2018बीजेपी सरकार में दो दिन से देश के ये बड़े चार राज्य कैश की किल्लत से जुंझ रहे हैं, एटीएम में कैश नहीं होने के कारण लोगों को काफी परेशानियों के साथ गुजरना पड़ रहा है.

यह भी पढ़ें: इस तरह हिट हुआ बिग बॉस के प्रियांक का रोमांस, सिंगर आस्था और बादशाह के सपोर्ट से मचाई सनसनी, Video हुआ वायरल

देश के दस राज्यों में कैश की किल्लत को लेकर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने वजह बताई है. आरबीआई ने कहा है कि एटीएम में दो सौ रुपए के नोट की ट्रे लगाने में देरी से कैश की किल्लत हुई है.

रिजर्व बैंक की तरफ से दो सौ रुपये का नोट पेश किए जाने के बाद एटीएम को इसके अनुकूल बनाने का फैसला किया गया है. सूत्रों ने बताया कि यह अभियान तुरंत शुरू हो गया, लेकिन देश के कुछ हिस्सों में इसमें देरी हुई.

Image result for कैश की किल्लत

रिजर्व बैंक ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में नकदी संकट की एक वजह एटीएम को तेजी से भरने में लॉजिस्टिक की समस्या है. साथ ही एटीएम को नए जारी नोट के अनुकूल बनाने का काम भी चल रहा है. इस बीच पिछले कुछ दिन से दो हजार रुपए के नोट की छपाई भी रुकी हुई है.

यह भी पढ़ें: बीजेपी की मोदी सरकार के कार्यकाल में इन VIP नेताओं के हेट स्पीच में आया करीब 500% का इजाफा

वहीं, आर्थिक मामलों के सचिव एस सी गर्ग ने कहा कि दो हजार के नोट की और आपूर्ति करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि यह पहले से ही अत्यधिक आपूर्ति की स्थिति में है. बता दें कि सरकार ने आज माना कि बाजार में दो हजार रुपये के नोटों की ताजा सप्लाई रोक दी गयी है, क्योंकि बाजार में पर्याप्त मात्रा में ये नोट मौजूद हैं.

Image result for कैश की किल्लत

दूसरी ओर सरकार ने ये भरोसा जताया कि जल्द ही 500 रुपये के नोटों की छपाई पांच गुना बढ़ जाएगी. बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश समेत कुछ राज्यों में एटीएम खाली पड़े हैं और नोटबंदी के बाद जैसी स्थिति है जब ना तो एटीएम से और ना ही शाखाओं से जरुरत के मुताबिक नकदी मिल पाती है.

यह भी पढ़ें: इस एक्ट्रेस को रात को साथ सोने के लिये बुलाते हैं लोग, इस तरह बतायी फिल्‍म इंडस्‍ट्री की हकीकत

एसबीआई के मुताबिक, ग्राहक बैंक में नकद कम जमा कर रहे हैं और आरबीआई बैंकों की मांग के मुताबिक नकद जारी नहीं कर रहा है. आपको बता दें कि सूत्रों के मुताबिक एसबीआई के बिहार में 1100 एटीएम हैं.

1100 एटीएम में रोजाना 250 करोड़ रुपये की जरूरत है. लेकिन अभी 125 करोड़ रुपये यानी आधा पैसा ही मिलता है. पटना में सिर्फ सरकारी बैंकों में ही नहीं प्राइवेट बैंकों के एटीम में भी कैश की किल्लत है.

 

=====================================================

ताजा और लेटेस्ट खबरों के लिये हमारे चैनल खबरस्पेसल.कॉम को सब्सक्राइब करें : खबरस्पेसल.कॉम, खबर स्पेसल ऑनलाइन हिंदी समाचार, हर खबर खास है, खबरस्पेसल न्यूज़ पर हर खबर खास है

=====================================================