khabarspecial/nda-candidate-m-venkaiah-naidu-elected-as-indias-next-vice-president-गोपालकृष्ण गांधी को हराया, वेंकैया नायडू चुने गए देश के 15वें नए उपराष्ट्रपति...
khabarspecial.com/nda-candidate-m-venkaiah-naidu-elected-as-indias-next-vice-president-गोपालकृष्ण गांधी को हराया, वेंकैया नायडू चुने गए देश के 15वें नए उपराष्ट्रपति...

नई दिल्ली: बीजेपी नेता एम वेंकैया नायडू उपराष्‍ट्रपति चुने गए हैं. शनिवार को उपराष्‍ट्रपति चुनाव के लिए हुए मतदान में उन्होंने विपक्ष के उम्मीदवर गोपालकृष्‍ण गांधी को 272 वोटों से हराया.

वेंकैया नायडू को 516 वोट मिले जबकि गोपालकृष्ण गांधी को 244 मत मिले. उपराष्‍ट्रपति बनने वाले नायडू आरएसएस की पृष्‍ठभूमि के दूसरे नेता हैं. इससे पहले बीजेपी के नेता भैरों सिंह शेखावत (1923-2010) इस पद के लिए 2002 में चुने गए थे.

पूर्व केन्द्रीय मंत्री एम. वेंकैया नायडू एनडीए उम्मीदवार थे. वहीं विपक्ष ने गोपाल कृष्ण गांधी को अपना संयुक्त उम्मीदवार बनाया था. वैसे आंकड़ों के खेल में वेकैंया नायडू का उपराष्ट्रपति चुना जान लगभग तय था. वेंकैया नायडू को 516 वोट मिले जबकि गोपालकृष्ण गांधी को 244 मत मिले. विपक्ष के उम्मीदवार गोपालकृष्‍ण गांधी को 272 वोटों से हराया.

टीचर ने की शर्मनाक हरकत, गुरु शिष्य के रिश्ते फिर हुये शर्मसार.. ऑनलाइन वायरल किया विडियो

वेंकैया नायडू उपराष्‍ट्रपति बनने वाले आरएसएस की पृष्‍ठभूमि के दूसरे नेता हैं. इससे पहले बीजेपी के नेता भैरों सिंह शेखावत (1923-2010) इस पद के लिए 2002 में चुने गए थे. वह देश के 11वें उपराष्‍ट्रपति चुने गए.

उपराष्ट्रपति के चुनाव में कुल 98.21 फीसदी मतदान हुआ. 785 में से कुल 771 वोट पड़े. 14 सदस्यों ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया.

मतदान की शुरुआत पीएम मोदी ने की जिसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, उपाध्यक्ष राहुल गांधी व अन्य नेताओं ने अपना वोट डाला. इनके अलावा पूर्व क्रिकेटर और सांसद सचिन तेंदुलकर, एक्ट्रेस रेखा व अन्य मंत्री-सांसदों ने भी अपना वोट डाला.

उधर, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उपराष्ट्रपति निर्वाचित होने पर वेंकैया नायडू को बधाई दी. नवनिर्वाचित उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने मैं कृतार्थ हूं. मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और सभी पार्टी नेताओं का समर्थन देने के लिये आभारी हूं.

वेंकैया नायडू ने कहा कि मैं उपराष्ट्रपति संस्था का उपयोग राष्ट्रपति के हाथ मजबूत बनाने के लिए करूंगा और ऊपरी सदन की मर्यादा को कायम रखूंगा.

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “विपक्ष विचारधारा से समझौता नहीं करेगा. फिर चाहे हार या जीत. प्रधानमंत्री ने विश्वास व्यक्त किया कि वेंकैया नायडू उपराष्ट्रपति के रूप में पूरी लगन और समर्पण के भाव से राष्ट्र की सेवा करेंगे और राष्ट्र निर्माण के लक्ष्य के प्रति समर्पित रहेंगे.

गोपालकृष्ण गांधी ने कहा कि इस चुनाव में दो जीत हासिल हुई, पहली नायडू को और दूसरी अभिव्यक्ति की आजादी को, और दूसरी जीत भारत के समस्त नागरिकों से जुड़ी है.