ब्रेकिंग न्यूज़: उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर की हिंसा में भीड़ ने इंस्पेक्टर सुबोध की पिस्टल छीनकर सिर पर इस तरह से मारी थी गोली, khabar Special Hindi Samachar, Har Khabar Khas hai, Khabarspecial News, Bulandshahar Hindi News, Uttar Pradesh News, Bulandshahr Violence, Bulandshahr Mob Lynching, Uttar Pradesh, Subodh Kumar Singh, Mob Lynching, cow slaughter, inspector Murder after Cow slaughter, Inspector murder in Uttar Pradesh, mob killed bulandshahr inspector, mob lynching with Subodh Kumar Singh, Siyana Kotwali, SIT, Yogi Adityanath, News in Hindi,बुलंदशहर हिंसा, बुलंदशहर मॉब लिंचिंग, उत्तर प्रदेश, सुबोध कुमार सिंह, मॉब लिंचिग, गौकशी, गौकशी के बाद हत्या, उत्तर प्रदेश में इंस्पेक्टर की हत्या, स्याना कोतवाली, एसआईटी, योगी आदित्यनाथ, हिन्दी में समाचार,Hindi News, News in Hindi, खबरस्पेशल न्यूज़, खबरस्पेशल, हिंदी समाचार, आज की सबसे बढ़ी हिंदी खबर

उत्तर प्रदेश/बुलंदशहर, खबरस्पेशल न्यूज़, अजित सिंह, 4-दिसंबर’2018: उत्तर प्रेदश (Uttar Pradesh) के बुलंदशहर (Bulandshahr) जिले के स्याना कोतवाली गांव महाव में गोकशी के बाद भड़की हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह (Inspector subodh singh) समेत एक युवक की भी मौत हो गई। गुस्साई भीड़ ने पुलिस चौकी समेत अनेक वाहनों को फूंक डाला.

इस हिंसा में स्याना के सीओ समेत आधा दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए। घटना के बाद भड़की हिंसा में इंस्पेक्टर स्याना सुबोध कुमार सिंह और ग्रामीण की मौत के मामले की जांच के लिए एडीजी इंटेलीजेंस एसबी शिरडकर को भेजा गया है। उनसे 48 घंटे में अपनी गोपनीय जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है.

यह भी पढ़ें: अब लोकसभा चुनाव से पहले महिलाएं तय करेंगी कि संसद में कौन बैठेगा, अब लड़ाई 33 की नहीं 50 फीसद की होगी

बताया जा रहा है कि गोकशी के बाद हुए बवाल में हमलावर भीड़ ने पुलिसकर्मियों को घेर लिया था। इस दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की पिस्टल छीनकर उनके सिर में गोली मार दी गई। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो कुछ 10-12 युवकों ने सुबोध सिंह को घेर लिया था और उनकी सरकारी पिस्टल लूट ली.

Image result for सुबोध कुमार सिंह

इसके बाद इंस्पेक्टर को जमकर पीटा और ईंटों से सिर पर वार किया। इसी दौरान इंस्पेक्टर को सिर में गोली मारी गई.एडीजी कानून-व्यवस्था ने भी बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को गोली लगने की पुष्टि हो गई है। बाईं भौंह की तरफ से सिर में 0.32 बोर की गोली घुसी है। इसके अलावा शरीर पर पिटाई के भी निशान हैं.

यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर की हिंसा: इंस्पेक्टर की पत्नी ने किया बड़ा ऐलान, इंसाफ न मिला तो गोली मारकर करूंगी आत्महत्या

बकौल प्रत्यक्षदर्शियों के इंस्पेक्टर ने अपनी सरकारी पिस्टल से फायर कर दिया। एक गोली हमलावर युवकों में शामिल एक को पैर से छूते हुए निकल गई। इसके बाद हमलावरों ने इंस्पेक्टर को दबोच लिया और उनकी पिस्टल तक छीन ली। ईंट से इंस्पेक्टर सुबोध के सिर पर कई वार किए और इसके बाद एक आरोपी युवक ने गोली सिर में उतार दी.

Image result for सुबोध कुमार सिंह

बच सकते थे सुबोध सिंह
लोगों के बीच बवाल में फंसे कोतवाल को उनके हमराह और पुलिस बल ने दगा दे दिया। भीड़ के पथराव-फायरिंग करते ही स्याना कोतवाल को वाहन में ही छोड़कर हमराह भाग निकले। करीब 15 मिनट तक घायल अवस्था में कोतवाल सुबोध कुमार सरकारी वाहन से खेत में लटकी अवस्था में पड़े रहे। बाद में उन्हें वहां से अस्पताल ले जाया गया। जहां उनकी मौत हो गई.

जांच के लिए एसआईटी गठित
सुबोध कुमार सिंह और ग्रामीण की मौत के मामले की जांच के लिए एडीजी इंटेलीजेंस एसबी शिरडकर को भेजा गया है। उनसे 48 घंटे में अपनी गोपनीय जांच रिपोर्ट देने को कहा गया है। पूरे मामले और इस संबंध में दर्ज होने वाले मुकदमों की गहन जांच के लिए आईजी रेंज मेरठ रामकुमार की अध्यक्षता में एक चार सदस्यीय एसआईटी भी गठित की गई है। एडीजी कानून-व्यवस्था आनंद कुमार ने यह जानकारी दी.

================================================

सिर्फ एक क्लिक करके पढ़े आज की सभी बड़ी खास खबरें :  क्लिक करें

यहाँ क्लिक करें और देखें बॉलीवुड की सबसे बड़ी खबर ख़बरें :  बॉलीवुड लेटेस्ट न्यूज़

अब लोकसभा चुनाव से पहले महिलाएं तय करेंगी कि संसद में कौन बैठेगा, अब लड़ाई 33 की नहीं 50 फीसद की होगी