उत्तर प्रदेश के अमरोहा में बसपा नेताओं का जाटवों पर बढ़ता अत्याचार, मगर अफ़सोस बिल्ली के गले में घंटी कोन बांधे, khabarspecial News, Amroha News, Amroha Hindi News, खबरस्पेशल न्यूज़, अमरोहा की खास खबर, जाटव यादराम निवासी ग्राम रामपुर भूड़, बसपा जिला उपाध्यक्ष अमरोहा शाहनाबाज चौधरी, गुरमीत जाटव, हसनपुर, बसपा नेता शाहनवाज चौधरी, शादाब टाटा, हसनपुर का चेयरमैन हूं, हसनपुर चेयरमैन सादात टाटा, BSP Leader Shahanawaj Chaudhary, BSP Leader Mayawati, Political News, Uttar Pradesh Crime News, Khabarspecial Hindi News

अमरोहा/उत्तर प्रदेश, खबरस्पेशल न्यूज़, अजित सिंह, 11-नवंबर’2018: भारत में राजनितिक नेताओं का आम जनता के साथ किस तरह का व्यवहार रहता है यह बात किसी सी छुपी नहीं है. नेता अपनी पार्टी और अपने अहम के चलते आम इन्सान को कुछ नहीं समझते और जहाँ देखो वहां अपनी नेता गर्दी दिखते रहते हैं.

कुछ ऐसा ही हुआ है उत्तर प्रदेश के अमरोहा में जहां गरीब मजदूर जाटव यादराम निवासी ग्राम रामपुर भूड़ थाना हसनपुर जनपद अमरोहा का बेटा गुरमीत दिनांक 8:11 :2018 की शाम मेहनत मजदूरी करके साइकिल से अपने गांव आ रहा था सड़क किनारे साइकिल की चैन उतरने पर साइकिल की चैन चढ़ा रहा था तब नशे में चूर तेज मोटरसाइकिल सवार बसपा जिला उपाध्यक्ष अमरोहा शाहनाबाज चौधरी का भाई पीछे से इस गरीब मजदूर जाटव के बेटे के टक्कर मार देता है.

यह भी पढ़ें: सपना चौधरी लेकर आ रही हैं दोस्ती के साइड इफेक्ट्स, इस फील से कर रही हैं बॉलीवुड में डेब्यू

गुरमीत जाटव का मौके पर खोपड़ा फट जाता है और बेहोश हो जाता है बसपा नेता शाहनवाज चौधरी का भाई एक्सीडेंट करके मौके से भाग जाता है इस घटना के चश्मदीद गवाह जब गुरमीत जाटव को उठाकर रिपोर्ट कराने हसनपुर थाने जाते हैं तब हसनपुर पुलिस गुरमीत जाटव की रिपोर्ट नहीं लिखी जबकि गुरमीत जाटव मरणासन्न अवस्था में है.

पुलिस ने दवाब में चलते गुरमीत का मेडिकल भी नहीं कराया जब गांव रामपुर भुड़ के जाटव दोषी व्यक्ति पर मुकदमा कराने का दबाव पुलिस पर डालते हैं तब अमरोहा बसपा जिला उपाध्यक्ष शाहनाबाज चौधरी ग्रामीणों को धमकाते हुए कहते हैं कि वह एक्सीडेंट करने वाला व्यक्ति मेरा भाई है तुम्हारी कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं होगी चुपचाप दो चार हजार रुपए ले लो और फैसला कर लो.

बसपा नेता शाहनवाज चौधरी की इस बात पर ग्रामीणों ने एतराज जताया तो बसपा नेता शाहनाबाज चौधरी के साथी शादाब टाटा ने भी रामपुर भुड़ के ग्रामीङो को धमकाना शुरू कर दिया, और सादाब टाटा कहने लगे कि मैं वर्तमान में हसनपुर का चेयरमैन हूं मेरे होते हुए तुम्हारी रिपोर्ट बसपा नेता शाहनवाज चौधरी के भाई के खिलाफ नहीं हो सकती, बसपा नेता शाहनवाज चौधरी व हसनपुर चेयरमैन सादात टाटा ने कहा कि यदि तुम्हारी एक्सीडेंट की रिपोर्ट थाने में दर्ज हुई तो हम अपने भाई के अपरहण का मुकदमा तुम्हारे खिलाफ लिखा देंगे.

यह भी पढ़ें: आमिर की फिल्म ठग्स ऑफ हिंदोस्तान देखकर ठगे गए दर्शक, दर्शकों ने दिए भददे भददे रिव्यु

तुम्हारा बेटा गुरमीत जाटव मर भी जाता है तो हम पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा तब गुरमीत जातव् के पिता यादराम और ग्रामीण लोगों ने इनकी शिकायत बहन जी से ब बसपा के बड़े पदाधिकारियों से करने को कहा तब शाहनाबाज चौधरी व्  शादाब टाटा ने कहा कि बसपा में हमारा कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता बसपा के सबसे बड़े नेता श्मसुद्दीन राइन प्रभारी पश्चिमी उत्तर प्रदेश से हमारे घर जैसे तालुकात हैं वो आये दिन हमारे यहाँ खाना खाने और चाय पीने आते रहते है हम राइन साहब को आधी रात भी हर सुविधा उपलब्ध कराते है.

समसुद्दीन राइन साहब के बसपा पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी रहते हमारा कोई भी कुछ नहीं बिगाड़ सकता, पूरे अमरोहा जिले में हमारी चलती है और बसपा को जिले में हम ही चलाते हैं पूरे जिले में बहन जी को सबसे ज्यादा चंदा हम राइनी के द्वारा पहुंचाते हैं इसलिए हमें पार्टी से कोई नहीं निकाल सकता, और कहा कि यह बसपा पार्टी तुम जाटवो से नहीं हमारे नोटों से चलती है, आखिर अंत में पुलिस ने भी बसपा नेता शाहनवाज चौधरी व शादाब टाटा के सुर में सुर मिलाते हुए, कह दिया कि यदि तुम्हारा मुकदमा एक्सीडेंट में दर्ज हुआ, तो नेता जी शाहनाबाज चौधरी के भाई के अपहरण का मुकदमा तुम पर दर्ज होगा,और पुलिस ने गुरमीत के पिता व ग्रामीणों को धमकाते हुए जो ग्रामीण इस एक्सीडेंट के गवाह थे उन तीनों गवाहों को रात को उठा लिया.

खबर हटके: इस गांव में महिलाओं ने अगर दिन में पहनी नाइटी तो लगेगा जुर्माना

खबरस्पेशल न्यूज़ अपनेे समस्त रीडर्स से विनती करता है कि यह गुरमीत जाटव के पिता यादराम बहुत ही निर्धन है इनका बेटा गुरमीत मौत से जूझ रहा है इनके पास गुरमीत का इलाज कराने को पैसे नहीं हैं ऐसे मजबूर बाप की मदद करें और साथ में बसपा में जाटव समाज की मुखिया बहन कुमारी मायावती जी व समस्त बसपा के नेतागणों से निवेदन है कि बसपा नेता शाहनवाज चौधरी, शादाब टाटा के निष्कासन के साथ साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश प्रभारी समसुद्दीन ऱाइन जैसे नेता का भी पार्टी से निष्कासन होना चाहिए.

ऐसे नेता ही शाहनाबाज चौधरी व शादाब टाटा को जाटवों का शोषण करने का बढ़ावा देते हैं और बहन जी को बदनाम करते हैं मगर अब जाटव समाज भाईचारे के नाम पर किसी भी जाति धर्म के व्यक्ति से अपने भाई की गर्दन नहीं करने देगा, यदि इन तीनों नेताओं को बसपा पार्टी से निष्कासित नहीं किया, तो जनपद अमरोहा में बसपा को भी जाटव समाज से धोखा ही मिलेगा.

शमसुद्दीन राइन जैसे बड़े नेता के इशारे पर ही मुस्लिम समाज के कुछ नेता पिछले कुछ दिनों से जाटव समाज का शोषण कर रहे, जनपद अमरोहा मैं बसपा के मुस्लिम नेताओं द्वारा जाटव समाज के शोषण की घटनाएं जब से ही अधिक बढ़ रही हैं जब से शमसुद्दीन राइन को पश्चिमी उत्तर प्रदेश का प्रभारी बनाया गया है अंत में बहन जी से हाथ जोड़कर निवेदन की ऐसे पार्टी को गद्दारों को संगठन से बाहर करें. अन्यथा जाटव जाग्रति मंच उत्तर प्रदेश जाटवों को बसपा के खिलाफ अपना बहुमत करने को जागरूक करेगी.

खबरस्पेशल न्यूज़ ऐसे लोगों की कड़े शब्दों में निंदा करता है और सरकार से अपील करता है की आने वाले चुनावों में इस तरह की लोगों को अपनी किसी भी पार्टी का टिकट नहीं दिया जाये. जो अपने ओहदे का गलत फायदा उठाते हैं, देश की सरकार ने नियम और कानून सकबे लिए बराबर बनाये हैं लेकिन समाज में कुछ इस तरह के नेता लोग कानून को अपने घर की रखेल (रखेल शब्द का प्रयोग करने के लिए माफ़ी) समझते हैं.

================================================

सिर्फ एक क्लिक करके पढ़े आज की सभी बड़ी खास खबरें :  क्लिक करें

यहाँ क्लिक करें और देखें बॉलीवुड की सबसे बड़ी खबर ख़बरें :  बॉलीवुड लेटेस्ट न्यूज़

सपना चौधरी लेकर आ रही हैं दोस्ती के साइड इफेक्ट्स, इस फील से कर रही हैं बॉलीवुड में डेब्यू