मेरठ/उत्तर प्रदेश, खबरस्पेशल न्यूज़, अजित सिंह, 15-अक्टूबर’2018: जिस तरह से देश में बेरोजगारी बढ़ रही है ठीक उसी तरह देश में सरकारी नौकरी पाने में लोगों का फर्जीवाड़ा बढ़ता ही जा रहा है. लोग सरकारी नौकरी के साथ साथ प्राइवेट नौकरियां पाने के लिए भी अपने दस्तावेजों में फर्जीवाड़ा कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: सलमान खान की फिल्म लवरात्रि पर भारी पड़ी आयुष्मान की फिल्म अंधाधुन, फेन्स पर नहीं चल पाया सलमान का जादू

सेना भर्ती में शामिल होने के लिए पहुंचे अभ्यर्थियों के फर्जी प्रमाण-पत्र बनाकर बेचने वाले गिरोह का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लैपटॉप, प्रिंटर, फर्जी अंक तालिका, आधार कार्ड, मूल निवास प्रमाण-नत्र, वोटर आई कार्ड बरामद किए हैं.

सहारनपुर के रिमाउंट डिपो के मैदान में 6th अक्तूबर से सेना भर्ती चल रही है। इसमें अमरोहा, हापुड़, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, मेरठ, बुलंदशहर और के अभ्यर्थी शामिल होने के लिए पहुंचे थे। इनमें से कुछ अभ्यर्थियों के प्रमाण-पत्रों पर सेना के अधिकारियों को संदेह हुआ। पूछताछ की गई तो आर्मी इंटेलीजेंस को किसी गिरोह द्वारा फर्जी प्रमाण-पत्र बनाए जाने के बारे में जानकारी मिली।

एसपी सिटी प्रबल प्रताप सिंह ने बताया कि आर्मी इंटेलीजेंस की सूचना पर अभिसूचना विंग और जनकपुरी पुलिस की टीम ने शनिवार शाम को पहलवान पीर के पास से चार लोगों को दबोच लिया। आरोपियों के पास से पुलिस ने एक लैपटॉप, एक प्रिंटर, दो फर्जी अंक तालिका, दो आधार कार्ड, एक मोहर, पैड, प्रवेश-पत्र, एक मूल निवास प्रमाण-पत्र, एक वोटर आईडी की छाया प्रति बरामद की.

यह भी पढ़ें: खुल गया Bigg Boss 12 के सीक्रेट रुम राज, इस वजह से जोड़ियों के साथ-साथ सिंगल्स की भी आने वाली है शामत

पूछताछ में आरोपियों ने अपना नाम सुरजीत उर्फ बॉबी निवासी काहरी कादिरपुर, थाना पिसावा, अलीगढ़, राहुल निवासी ग्राम जवां जहांगीरपुर बुलदंशहर, रजत निवासी मुरादखेड़ी नकुड़ सहारनपुर और रामनिवास निवासी ग्राम हबीबपुर थाना महावन, मथुरा बताया। एक आरोपी आकाश निवासी जवां थाना जहांगीरपुर, बुलंदशहर फरार हो गया।

आरोपियों ने बताया कि वे लोग फर्जी दस्तावेज तैयार करते हैं और भर्ती केंद्रों के आसपास बैठकर फर्जी दस्तावेज तैयार करके भर्ती में शामिल होने के लिए आए अभ्यर्थियों को उपलब्ध कराते हैं। भर्ती में शामिल होने के लिए आने वाले युवकों के पास कोई न कोई कागज कम रह जाता है.

यह भी पढ़ें: विधानसभा चुनावो के चलते इन पांच राज्यों में लागू हुई आचार संहिता, अब नहीं हो पायेंगे ये सारे काम

इसे वे तुरंत स्कैनर एवं लैपटॉप से मौके पर ही तैयार कर देते हैं। कई युवकों को मूल निवास प्रमाण-पत्र, आय-प्रमाण पत्र एवं अंक तालिका उपलब्ध कराईं। कई कागज के प्रारूप एक पेन ड्राइव में है। उसे आकाश अपने साथ लेकर फरार हो गया है.

================================================

सिर्फ एक क्लिक करके पढ़े आज की सभी बड़ी खास खबरें :  क्लिक करें

यहाँ क्लिक करें और देखें बॉलीवुड की सबसे बड़ी खबर ख़बरें :  बॉलीवुड लेटेस्ट न्यूज़

Movie Review: सलमान खान की फिल्म लवरात्रि पर भारी पड़ी आयुष्मान की फिल्म अंधाधुन, फेन्स पर नहीं चल पाया सलमान का जादू